बॉलीवुड की एक ऐसी अभ‍िनेत्री का आज (अप्रैल) जन्‍मद‍िन है जो एक वक्‍त सफलता के श‍िखर पर थी लेक‍िन जब उसकी मौत हुई तो क‍िसी को खबर नहीं हुई। तीन द‍िन तक लाश लावारिस पड़ी रही थी। हम बात कर रहे हैं बॉलीवुड अभिनेत्री परवीन बॉबी की। उनका जन्म 4 अप्रैल 1949 को गुजरात के जूनागढ़ में हुआ था। परवीन कामयाब अभिनेत्री थीं लेकिन उनकी जिंदगी उतार- चढ़ावों से भरी रही। उन्हें एक ऐसी बीमारी हो गई थी जिसमें उन्हें डर लगने लगा था कि कोई उनकी जान लेना चाहता है। साल 2005 में परवीन का निधन हो गया था।
परवीन बॉबी का नाम बॉलीवुड के कई स‍ितारों से साथ लिया गया लेकिन सबसे ज्‍यादा चर्चा उनकी डैनी के साथ हुई। दोनों का अफेयर फिल्म 'धुएं की लकीर' से शुरू हुआ था। हालांकि ये अफेयर ज्यादा दिनों तक नहीं चला था। चार साल बाद दोनों अलग हो गए थे। ब्रेकअप के बाद डैनी ने परवीन के बारे में कई बातें बताई थीं।

फिल्मफेयर को दिए इंटरव्यू में डैनी ने बताया था कि ब्रेकअप के बाद परवीन उन्हें अक्सर डिनर पर बुलाती थीं। ब्रेकअप के बाद भी हम दोनों काफी अच्छे दोस्त थे। जब घर पहुंचता था तो परवीन बेडरूम में वीसीआर पर मूवी देखती मिलती थीं। डैनी से ब्रेकअप के बाद परवीन बॉबी का अफेयर महेश भट्ट के साथ चला था।
20 जनवरी 2005 को अपने फ्लैट में रहस्यमयी हालत मृत पाई गई थीं। उन्‍हें सिगरेट पीने की लत लग गई थी। 1974 में अमिताभ बच्चन के साथ आई ‘मजबूर’ ने उन्हें हिंदी फिल्म इंडस्ट्री में ग्लैमरस एक्ट्रेस के तौर पर स्टेबलिश किया। दोनों स्‍क्रीन पर खूब जमे भी। फिल्म इंडस्ट्री में सफलता का स्वाद चखने वाली परवीन बाबी डिप्रेशन जैसी बीमारी की शिकार हो गईं। उनकी आखिरी फिल्म आकर्षण (1989) थी।
उनके न‍िधन के बाद परवीन की बॉडी क्लेम करने वाला कोई नहीं था। आखिरकार उनकी बॉड को महेश भट्ट ने ही क्लेम किया। जब उनकी लाश मिली तब उन्हें मरे हुए 72 घंटे हो चुके थे।