Header Ads

लालकृष्ण आडवाणी को गिरफ्तार करने वाले आईएएस को भी मोदी ने मंत्री बना दिया,

जयपुर

गुरुवार शाम को मोदी सरकार भाग-2 में प्रधानमंत्री मोदी सहित 58 मंत्रियों ने राष्ट्रपति के समक्ष पद और गोपनीयता की शपथ ली। इनमें से मोदी मंत्री परिषद के कुछ चेहरों को लेकर देश भर के मीडिया में विशेष चर्चा चल रही है। ऐसा ही एक नाम है आरा लोकसभा क्षेत्र से चुनाव जीतकर दिल्ली पहुंचे राजकुमार सिंह यानी आरके सिंह का,,,,,,



आरके सिंह 1975 बैच के आईएएस अधिकारी रह चुके हैं।  आरके सिंह ने 1990 में उत्तर प्रदेश के समस्तीपुर में बीजेपी के दिग्गज नेता लालकृष्ण आडवाणी को गिरफ्तार किया था, उस कारण आरके सिंह सुर्खियों में भी आए थे। 

बिहार कैडर के आईएएस रहे आरके सिंह ने 1990 में समस्तीपुर डीएम रहते हुए रथ यात्रा निकाल रहे लालकृष्ण आडवाणी को गिरफ्तार किया था। आरके सिंह केंद्र में गृह सचिव भी रह चुके हैं, उन्हें अपने समय का सख्त प्रशासक माना जाता था।

आरके सिंह मोदी के पहले कार्यकाल में भी केंद्रीय मंत्री की भूमिका निभा चुके हैं, पहले कार्यकाल में आरके सिंह ऊर्जा राज्यमंत्री के तौर पर काम कर चुके हैं। ऊर्जा राज्य मंत्री रहते हुए उन्होंने कई महत्वपूर्ण कार्य किए, इसी कारण उन्हें फिर से मंत्रिपरिषद में जगह मिली हैं।

आरके सिंह को ईमानदार व साफ छवि का नेता माना जाता है। उनकी कार्यप्रणाली की विपक्ष भी प्रशंसा करता है। अपने लोकसभा क्षेत्र आरा में आरके सिंह काफी लोकप्रिय हैं। वहां के लोग उन्हें मोदी से भी अच्छा काम करने वाला नेता मानते हैं।

No comments