Header Ads

बंद होने जा रहा शो Big Boss, सूचना और प्रसारण मंत्रालय ने लिया ये एक्शन

मुंबई: पॉपुलर रियलिटी शो बिग बॉस 13 शुरु होने के साथ ही विवादों में घिरा हुआ है। अब ये विवाद इतना बढ़ गया है कि लोग इस शो को बंद करने की बात कर रहे हैं। वहीं करणी सेना ने शो को फौरन बंद करने की मांग की है। करणी सेना का मानना है कि ये शो अभद्रता फैलाने का काम कर रही है। अब इसको लेकर सूचना और प्रसारण मंत्रालय ने प्रसार भारती से बिग बॉस के आपत्तिजनक कटेंट की जानकारी मांगी है।

करणी सेना ने की बैन की मांग-

बता दें कि करणी सेना ने सूचना और प्रसारण मंत्री प्रकाश जावेड़कर को पत्र लिखा है। इसमें करणी सेना ने लिखा है कि ये शो नेशनस टीवी पर हिन्दू संस्कृति का अपमान कर रहा है। शो बिग बॉस लव जिहाद को बढ़ाने का काम कर रहा है। साथ ही जेनेरेशन को भी भटका रहा है। इस शो में बहुत ज्यादा अभद्रता है इस फैमिली के साथ बैठकर नहीं देखा जा सकता है।

सलमान खान को भी बनाया निशाना-



इसके साथ ही करणी सेना ने महाराष्ट्र के सीएम देवेंद्र फडणवीस को भी पत्र लिखा और बिग बॉस 13 के खिलाफ तुरंत कार्रवाई की मांग की थी। इसके अलावा करणी सेना ने सलमान खान पर नेशनल टेलीविजन पर लव जिहाद को प्रमोट करने और हिंदू संस्कृति का अपमान करने के खिलाफ सख्त कार्रवाई का मांग भी की थी।
यह भी पढ़ें: 

बीजेपी विधायक ने भी की शो को बंद करने की मांग-

यही नहीं बीजेपी विधायक नंद किशोर ने भी सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय में पत्र लिखकर शो को बैन करने की मांग की थी। उन्होंने लिखा था कि, ये शो हमारी संस्कृति के खिलाफ है और साथ ही इस शो में इंटिमेंट सीन्स भी हैं। साथ ही शो में अलग-अलग समुदाय के लोगों को बेड सांझा करने को उन्होंने बेदूहा बताया था। उन्होंने लिखा था कि, एक तरफ पीएम मोदी देश को उसकी शान लौटाने की कोशिश कर रहे हैं तो वहीं ये शो देश की संस्कृति को हानि पहुंचा रहा है।

शो शुरु से घिरा है विवाद में-



बता दें कि कल यानि बुधवार को ट्वीटर पर #BanBigBoss ट्रेंड कर रहा था। लोग शो पर अश्लीलता फैलाने का आरोप लगा रहे थे। ये पहली बार नहीं है जब शो का विरोध हो रहा है इससे पहले शुक्रवार को #जेहादफैलाताबिगबॉस भी खूब ट्रेंड कर रहा था। लोग शो के शुरु होने के पहले दिन से ही शो के खिलाफ विरोध कर रहे हैं। ऐसे कई टास्क हैं जिनके लिए भी शो को विवादों का सामना करना पड़ा और अब लोग इस शो को बैन करने की ही मांग कर रहे हैं।
यह भी पढ़ें: 
संदर्भ पढ़ेंvvv

No comments